सीने में बाईं तरफ दर्द क्यों होता है? जानते हैं इसके कारण और इलाज

Chest Pain Causes: सीने में दर्द होना सामान्य नहीं होता है। यही वजह है कि जब भी किसी के सीने के बाईं तरफ दर्द होता है, तो वह उसे हार्ट अटैक का लक्षण समझ बैठता है। लेकिन सीने के बाईं तरफ दर्द होना सिर्फ हार्ट अटैक का लक्षण नहीं होता है, कई ऐसे अन्य कारण भी जिनकी वजह से छाती में बाईं तरफ दर्द हो सकता है। चलिएविस्तार से जानते हैं सीने में बाईं तरफ दर्द क्यों होता है? 

छाती में दर्द के कारण :

1. एनजाइना 

एनजाइना अपने आप में कोई बीमारी नहीं है, लेकिन यह आमतौर पर हृदय की समस्या जैसे कोरोनरी हृदय रोग का लक्षण है। एनजाइना में सीने में दर्द, बेचैनी जैसे लक्षण देखने को मिल सकते हैं, क्योंकि इस दौरान हृदय की मांसपेशियों को रक्त से पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल रही होती है। इसके साथ ही आपको बाहों, कंधों, गर्दन, पीठ या जबड़े में भी परेशानी हो सकती है।

2. हार्ट अटैक

सीने में बाईं तरफ दर्द होने का एक मुख्य कारण हार्ट अटैक हो सकता है। जब हृदय की मांसपेशियां क्षतिग्रस्त हो जाती हैं, तो उसे पर्याप्त ऑक्सीजन युक्त रक्त नहीं मिल पाता है। ऐसे में व्यक्ति को सीने में बाईं तरफ, केंद्र में दर्द महसूस हो सकता है। इसके अलावा चक्कर आना, पेट दर्द, उल्टी आना, सांस लेने में कठिनाई भी हार्ट अटैक के लक्षण हो सकते हैं।

3. एसोफेजियल रिफ्लक्स और ऐंठन  

एसोफेजियल रिफ्लक्स छाती में जलन पैदा कर सकता है। यह मसालेदार भोजन खाने से हो सकता है। यह समस्या गैस्ट्रिटिस लक्षणों से जुड़ा होता है। इसमें सीने में बाईं तरफ दर्द महसूस हो सकता है।

4. मायोकार्डिटिस 

सीने में बाईं तरफ दर्द का अहसास मायोकार्डिटिस की वजह से भी हो सकता है। इस समस्या में हृदय की मांसपेशियों में सूजन आ जाती है। सांस लेने में कठिनाई, असामान्य हृदय गति और थकान भी मायोकार्डिटिस के लक्षण हो सकते हैं। यह समस्या आपके हृदय को कमजोर कर सकता है, इससे हृदय की मांसपेशियों को नुकसान पहुंच सकता है।

5. कार्डियोमायोपैथी 

कार्डियोमायोपैथी हृदय की मांसपेशी या बढ़े हुए हृदय की बीमारी है। बिना लक्षणों के कार्डियोमायोपैथी होना संभव है, लेकिन इससे सीने में दर्द भी हो सकता है। सांस लेने में तकलीफ, चक्कर आना, घबराहट और पेट में सूजन कार्डियोमायोपैथी के अन्य लक्षण हो सकते हैं। इस दौरान आपको अपनी जीवनशैली में बदलाव करने की जरूरत होती है।

6. पेरिकार्डिटिस 

पेरीकार्डियम ऊतक की दो पतली परतें होती हैं, जो हृदय को घेरे रहती हैं। जब इस क्षेत्र में सूजन आती है, तो यह बाईं तरफ या छाती के बीच में तेज दर्द होता है। इस दौरान आपको दोनों कंधों में भी दर्द हो सकता है।

7. पैनिक अटैक

हार्ट अटैक के साथ ही पैनिक अटैक भी सीने में बाईं तरफ दर्द होने का कारण हो सकता है। पैनिक अटैक अचानक आते हैं। सीने में दर्द के साथ ही सांस लेने में कठिनाई, कंपकंपी, चक्कर आना और जी मिचलाना भी पैनिक अटैक के लक्षण होते हैं।

8. एसिड रिफेक्स

सीने में दर्द और बेचैनी है, यह तब हो सकती है जब डाइजेस्टिव एसिड एसोफैगस (एसिड रिफ्लक्स) में प्रवाहित होता है। एसिड रिफेक्स की वजह से सीने में बाईं तरफ दर्द हो सकता है। खट्टी डकार, ऊपरी पेट में दर्द, छाती में जलन भी एसिड रिफेक्स के लक्षण होते हैं। खाना खाने के तुरंत बाद लेट जाने से यह समस्या बढ़ती है।

9. फेफड़ों का कैंसर

सीने में दर्द कभी-कभी फेफड़ों के कैंसर का लक्षण हो सकता है। तीव्र खांसी, बलगम या खून खांसी,  कंधे या पीठ में दर्द और सांस लेने में कठिनाई भी फेफड़ों के कैंसर के लक्षण होते हैं। इन लक्षणों को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें।

अगर आपको भी सीने में बाईं तरफ दर्द महसूस हो, तो इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। आपको दर्द होने पर तुंरत डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए। पूरी जांच के बाद ही सीने में दर्द के कारण का पता चल पाएगा।

Comments

You must be logged in to post a comment.

About Author

I am a blog writer .

Recent Articles
Feb 22, 2024, 10:15 PM Prakash pandey
Feb 22, 2024, 4:15 PM Junaidu Mustapha
Feb 22, 2024, 2:19 PM Junaidu Mustapha
Feb 22, 2024, 1:06 AM gokul
Feb 21, 2024, 11:50 PM Prakash pandey